Wednesday, October 16, 2013

आ जा फिर से.…. Come Again


आ जा फिर से.….
आ जा फिर से कर ले इक गुस्ताखी 
आ जा फिर मिटा ले वो दूरियां सारी 
आ जा फिर मिल जाए हम दोनों
आ जा खुद में खो जाए हम दोनों 
आ जा कुछ पा ले हम दोनों 
आ जा सब कुछ खो दे हम दोनों 
आ जा फिर दे उनको जलने का बहाना 
आ जा फिर दे उन्हें कोसने का  फसाना 
आ जा रिती रिवाज भुला दे हम दोनों 
आ जा रस्मों को मिटा दे हम दोनों 
आ जा एक पहचान बनाए हम दोनों 
आ जा एक मिसाल बन जाए हम दोनों 

1 comment: